कमर दर्द जड़ से खत्म करने के उपचार // Waist Pain Remedies



     

    कमर का दर्द अब एक सामान्य सी बीमारी बन गई है। पहले जहाँ कमर दर्द बुज़ुर्गो को ही हुआ करता था अब हर छोटे-बड़े इससे परेशान है।
    हांलाकि कमर दर्द होने के पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते है। खास कर हमारी जीवनशैली की कुछ ख़राब आदते। जैसे की देर तक बिना आराम किये काम करते रहना या बैठने-उठने में बिना वजह उतावलापन तथा गलत तरीका।
कमर दर्द को जड़ से मिटाने के कई असरकारक और बेजोड़ घरेलु नुस्खें आयुर्वेद में दिए गए है। 
    लेकिन इससे पहले कमर दर्द के बारे में कुछ सामान्य जानकारी जानते है। अगर आप खुद कमर दर्द से पीड़ित नहीं है तो यकीनन आपके लिए यह जानकारी उपयोगी होगी।
क्या न करें : 
कमर दर्द का सीधा संबंध वायु से है. मतलब अगर शरीर में वायु प्रकोप होगा तो कमर दर्द के साथ-साथ जोड़ों के अन्य दर्द भी होने की संभावना है. इससे बचाव के लिए आपको वैसे खुराक से दुरी रखनी चाहिए जिससे पेट भारी रहे या कब्ज की शिकायत रहे. सामान्य कुदरती प्रक्रियाएं जैसे छींक, मलत्याग, मूत्रत्याग को रोकने का प्रयत्न न करें. चिंता, भय, और गुस्सा करने से बचने की कोशिश करें. शरीर को पर्याप्त आराम दें. रात को बिना-वजह जागने की आदत न बनाएं.
क्या खाएं ? 
    जैसा की आपने पढ़ा कमर दर्द का सीधा संबंध वायु से है. इसलिए कमर दर्द से पीड़ित व्यक्ति को चाहिए की वो भारी खुराक के बजाय हल्का, सुपाच्य ताजा खुराक खाएं. खुराक में लहसुन, हींग, मेथी, अजवाइन, ताजा हरी-हरी प्राकृतिक सब्जियों का प्रयोग करें.
क्या न खाएं ? : 
    कमर दर्द से पीड़ित व्यक्ति को चने, लोबिया के बीज, जौ, मटर, भिन्डी, बैंगन, ग्वार के बीज, इमली, दहीं, छाछ जैसे पदार्थ लेने से परहेज करना चाहिए. साथ ही अधिक तेल से तले हुए खाने और मसालेदार खाना खाने से भी बचना चाहिए.
     अगर आप कमर-दर्द से पीड़ित नही है तो ऊपर दी गई जानकारी से आपको इस दर्द से दुरी रखने में सहायक होगी. परंतु आप कमर-दर्द से पीड़ित है तो इसके लिए क्या इलाज और घरेलु नुस्खें है आइए अब वो जानते है

 1.मेथी को थोड़े से घी में सेंक कर पीस लें. फिर उसमे गुड और घी मिलाकर छोटे छोटे लड्डू बना लें. 8-10 दिनों तक इसका लगातार सेवन करने से कमर दर्द और गठिया जड़ से मिटता है. 
2.कच्चे आलू को बिना छिले टुकड़े कर तुरंत उसका रस निकाल लें. इस रस को पीने से गठिया (Arthritis) के रोग में बड़ा फायदा मिलता है. 
3. सौंठ का काढा बनाकर पिने से जोड़ों के अक्सर दर्द में राहत मिलती है.
4.सौंठ, लहसुन, अजवाइन और सरसों के कुछ दानो (Mustard) को तेल में गरम कर लीजिए. ठंडा होने पर उस मिश्रण से मालिश करने से कमर के दर्द में आराम मिलता है.
5. सौंठ के चूर्ण या पावडर का पानी के साथ सेवन करने से कमर का दर्द मिटता है.
6.सौंठ पावडर और हींग को तेल में गरम कर ठंडा होने पर मालिश करने से भी कमर दर्द में राहत मिलती है.
7.सरसों के तेल के साथ प्याज के रस को मिलाकर मालिश करने से कमर दर्द और गठिया मिटता है.
8.अदरक के रस में चुटकी भर सामान्य नमक (Salt) डाल दें. फिर उससे दर्द वाले हिस्से पर मालिश करें फायदा मिलेगा. 

9.अजवाइन और गुळ बराबर मात्रा में सुबह-शाम लेने से कमर का दर्द नहीं रहता. 
10.ताजा खजूर की पांच पेशियाँ लें और पानी में उसका काढा बनाएं. फिर उसमे दो चम्मच मेथी डालकर वो पेय पिएँ. इससे कमर दर्द में राहत मिलती है. 
11.जायफल को सरसों के तेल में भिगोकर कमर के दर्द वाले हिस्से पर हलके हाथों से मालिश करें. इससे कमर का दर्द तो दूर होगा पर अगर गठिया भी हुआ तो वह भी मिट जाएगा. 
12.लौंग का तेल घिसने से गठिया का रोग मिटता है.
13.चुटकी भर मेथी रोज खाने की आदत वायु के अधिकतर रोगों को दूर रखती है. और कमर दर्द तथा जोड़ों के दर्द का मुख्य कारण वायु ही होता है.

-----------------------------
हर्बल चिकित्सा के अनुपम आलेख-

पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा  का  अचूक  इलाज 

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका  के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone)  की अचूक औषधि 



एक टिप्पणी भेजें