हस्त मैथुन से उत्पन्न यौन दुर्बलता के उपचार




    हस्तु मैथुन से धातु वीर्य दोष हो जाता है और धातु पतली हो जाती है. ऐसे में युवाओं की जिंदगी नरक बन जाती है. युवाओं से अनुरोध है के इस बुरी आदत को छोड़ दें. और हुए नुक्सान की भरपाई के लिए निम्न घरेलु नुस्खे अपनाने चाहिए.
दुर्बलता को दूर करने के उपाय.

आंवला तथा हल्दी – 


आंवला तथा हल्दी समान मात्रा में पीसकर घी डालकर सेंक लीजिये, और भून लीजिये, सिकने के बाद दोनों की बराबर मात्रा में पीसी मिश्री मिला लीजिये. (जैसे 100-100 ग्राम आंवला और हल्दी है तो मिश्री २०० ग्राम) अभी इसको सुबह शाम एक एक चम्मच गर्म दूध के साथ फंकी लीजिये.

असगंध (अश्वगंधा) –

 आधा चम्मच असगंध की फंकी नित्य सुबह शाम गर्म दूध से लेने से ठीक हो जाती है. मर्दाना शक्ति भी बढती है और आंवले के प्रयोग को भी निरंतर करे.

कच्ची हल्दी और शहद – 

कच्ची हल्दी का रस दो चम्मच, समान भाग शहद में मिलाकर एक बार रोजाना पियें. या पीसी हुयी हल्दी 250 ग्राम गाय या भैंस के घी में सेंक कर इसमें पीसी हुयी 250 ग्राम मिश्री मिला लें. नित्य रात को गर्म दूध से फंकी लें.

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचा

किडनी फेल (गुर्दे खराब) रोग की अनुपम औषधि


कोई टिप्पणी नहीं: