26.6.17

बवासीर ,मस्से, पाईल्स मे उपयोगी योग आसन :Useful Yoga Posture for Hemorrhoids, piles





   पाइल्स को बवासीर और Hemorrhoids भी कहा जाता है| इसकी समस्या आजकल बहुत ही आम हो गयी है| जैसा की हम सभी जानते है की आजकल की जीवनशैली में सभी का खानपान अनियमित हो गया है, जिसके चलते कब्ज आदि की समस्या रहती है| और यही दोनों बवासीर के होने के मुख्य कारण है|



>दरहसल बवासीर में मलद्वार के आसपास की नसें सूज जाती हैं| जिसके चलते मल त्यागते वक्त बहुत दर्द महसूस होता है, साथ ही मलद्वार से खून भी आता है या खुजली होती है|
इस परेशानी के चलते व्यक्ति की हालत बहुत ही ख़राब हो जाती है| बहुत से लोगो को तो इसका ऑपरेशन भी करवाना पढता है|
बवासीर से निजात के लिए योग
पर्वतासन
   पर्वतासना को माउंटेन पोस के नाम से भी जाना जाता है| यह आपके पुरे शरीर को स्ट्रेच करने के लिए बहुत अच्छा व्यायाम है| इसलिए गठिया रोगी के लिए तो यह बहुत ही अच्छा व्यायाम है| इसे करते वक्त शरीर की मुद्रा पर्वत के समान दिखती है इसलिए इसे पर्वतासन कहा जाता है| Piles Cure के लिए भी इसे करना अच्छा है|
इसे करने के लिए किसी साफ़ समतल जगह पर दरी बीछाकर खड़े हो जाये| अब अपने हाथो को ऊपर कर ले| इसके बाद सांस लेते हुए अपने पंजो को ऊपर उठाये, कुछ सेकंड्स इसी मुद्रा में बने रहे फिर निचे आ जाये|
हलासन-
   हलासन आपके पीठ की मांसपेशियों से तनाव दूर करता है| इसे करने से कब्ज, गैस, खाने का ना पचना जैसी समस्या दूर होती है| इसे करने के लिए सबसे पहले अपने पीठ के बल लेट जाये फिर अपने पैरो को धीरे धीरे उठाये|आपको सांस लेते हुए अपने पैरो को उठाना है और 90 डिग्री तक ले जाना है|
इसके बाद सांस छोड़ते हुए अपने पैरो को 120 डिग्री तक ले जाने का प्रयत्न करे| इसे बाद अपने पंजो को भूमि से लगाए| कुछ देर इसी अवस्था में बने रहे फिर वापिस आ जाये|
बालासन-

   बालासन करने में सरल तो है ही साथ ही इससे आप बवासीर की समस्या से राहत पा सकते है| दरहसल यह आपके पाचन तंत्र को सुचारू रखता है तथा कब्ज की समस्या से निजात दिलाता है| इस आसन को करने के लिए सबसे पहले तो घुटने मोड़कर बैठ जाये| अब हाथो को ऊपर उठाये और आगे जमीन को और रख दे|
अपने माथे को भी जमीन से छुए| इस वक्त आपके शरीर की मुद्रा पेट में पल रहे बच्चे के समान होती है| आपका नितम्ब दोनों एडियो के बिच होना चाहिए| इस मुद्रा में कुछ सेकंड्स बने रहे|
सर्वंगासन-

   सर्वंगासन करने से तनाव दूर होता है, साथ ही यह बवासीर के लक्षणों से भी निजात दिलाता है| इसे करने के लिए सबसे पहले पीठ के बल सीधे लेट जाएं। इसके बाद अपने दोनों पैरों को साथ रखें और हाथों को कमर के पीछे रखे|


इसके पश्चात सांस अंदर की ओर लेते हुए दोनों पैरों को ऊपर की और उठाये| पहले 30 डिग्री के कोण तक उठाएं, फिर धीरे धीरे करकर 90 तक की डिग्री तक उठाएं।

   कुछ सेकंड्स इसी अवस्था में बैठे रहे| फिर सांस छोड़ते हुए धीरे धीरे दोनों पैरों को नीचे ले आएं और कुछ देर शवासन में लेटें। यह फायदेमंद Yoga poses for Piles में से एक है
   इस पोस्ट में दी गयी जानकारी आपको अच्छी और लाभकारी लगी हो तो कृपया लाईक,कमेन्ट और शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँच सकती है और हमको भी आपके लिये और अच्छे लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है|
Post a Comment