Wednesday, February 8, 2017

जिनका पहलवान वियाग्रा खाकर भी सोया रहे वे करें ये उपचार//Tremendous ways to increase sex power

    



इस भाग दौड़ और तनाव भरी ज़िन्दगी तथा अनियमति और अनहेल्दी भोजन के कारण पुरुषों में कमजोरी की समस्या आजकल आम है। नपुंसकता, स्वप्नदोष, धातु दोष आदि ऐसी समस्याएं हैं जो वैवाहिक जीवन को बहुत अधिक प्रभावित करती हैं। असंयमित खान-पान या शरीर में पोषक तत्वों के कारण या अन्य गलत आदतों से पुरुषों को दुर्बलता या कमजोरी की परेशानी होने लगती है।

सेक्स पावर को प्रभावित करने वाले कारक (Factors impacting Sex Power)
शरीर का अतिरिक्त फैट, शुगर, अतिरिक्त रक्तचाप, मानसिक तनाव, अत्यधिक शराब का सेवन आदि कुछ ऐसी वजह हैं जिनके कारण मनुष्य की सेक्स पावर प्रभावित होती है।
अतिरिक्त वसा को काबू में रखें (Reduce Fat): 
बेहतर सेक्स लाइफ के लिए फिट होना बेहद जरूरी है। बढ़ते फैट को कंट्रोल कर सेक्स लाइफ को बेहतरीन ढंग से एन्जॉय किया जा सकता है।
खाने में ड्राई फ्रूट्स को करें शामिल (Eat Dry Fruits):
 ड्राई फ्रूट्स सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं, इन्हें अपने खाने में अवश्य शामिल करना चाहिए।

यकृत (लीवर) के रोग के घरेलु उपचार / Home remedies for liver disease
स्तंभन शक्ति-

स्तंभन शक्ति सभी पुरुषों में अलग अलग होती है। संभोग करते समय जितने समय तक पुरुष का वीर्य स्खलित नहीं होता वह समय स्तंभन शक्ति कहलाता है। सम्भोग करते समय जब तक स्त्री चरम सीमा ( Orgasm ) प्राप्त ना कर ले तब तक पुरुष का स्खलन नहीं होने और यौन क्रिया लगातार चलते रहने से ही सम्पूर्ण यौन सुख प्राप्त होता है। यदि स्खलन जल्दी हो जाता है तो स्तम्भन शक्ति बढ़ाने की जरूरत महसूस
होती है।
    स्तंभन शक्ति बढ़ाने के घरेलु नुस्खे का सेवन करके इस समस्या को हल किया जा सकता है। नीचे कुछ आसान नुस्खे बताये गए है। हर शरीर की कार्यविधि अलग होती है। अपनी पाचन क्षमता के आधार पर ही किसी भी नुस्खे का सेवन करना हितकारी होता है। बुखार या किसी और कारण से कमजोरी हो , पाचन तंत्र में खराबी , अपच , एसिडिटी या कब्ज आदि हो तो पहले इन्हें ठीक करके ही नुस्खे के सेवन करना चाहिए।
तेज मिर्च मसाले वाला खाना , इमली अमचूर आदि की तेज खटाई , मांस मदिरा आदि का पहरेज रखना चाहिए। इन चीजों के अधिक उपयोग से शुक्राणु भी कमजोर हो सकते है। स्वस्थ संतान की उत्पत्ति के लिए शुक्राणु का स्वस्थ होना जरुरी होता है। अतः परहेज अवश्य करें। नीचे बताये गए उपायों से यौन शक्ति बढ़ने के साथ शुक्राणु बढ़ते है और स्वस्थ भी होते है।
आंवला-
    2 चम्मच आंवला के रस में एक छोटा चम्मच सूखे आंवले का चूर्ण तथा एक चम्मच शुद्ध शहद मिलाकर दिन में दो बार सेवन करना चाहिए। इसके इस्तेमाल से सेक्स शक्ति धीरे-धीरे बढ़ती चली जाएगी। इस प्रकार की परेशानी में आंवला बहुत फायदेमंद होता है। अत: प्रतिदिन रात्रि में गिलास में थोड़ा सा हुआ सुखा आंवले का चूर्ण लें और उसमें पानी भर दें। सुबह उठने के बाद इस पानी में हल्दी मिलाएं एवं छानकर पीएं। आंवले के चूर्ण में मिश्री पीसकर मिलाएं। इसके बाद प्रतिदिन रात को सोने से पहले करीब एक चम्मच इस मिश्रित चूर्ण का सेवन करें। इसके बाद थोड़ा सा पानी पीएं। जिन लोगों को अत्याधिक स्वप्नदोष होने की समस्या है, वे प्रतिदिन आंवले का मुरब्बा खाएं।
व्यायाम करें 
 प्रतिदिन व्यायाम ना सिर्फ शरीर को फिट रखता है बल्कि इससे सेक्स लाइफ भी हिट रहती है। हर दिन कुछ समय के लिए व्यायाम जरूर करें।



बबूल के पेड़ का गोंद , 

बबूल के पेड़ के कोमल पत्ते और बबूल के पेड़ की बिना बीज वाली कच्ची फली। ये तीनो समान मात्रा में लें।इन तीनो को छाया में अच्छे से सूखा लें। जब सूख जाये तो तीनो को मिलाकर कूट पीस कर बारीक चूर्ण बना लें। इसे एक साफ बोटल में भरकर रख लें। इसमें से एक चम्मच चूर्ण लें और इसमें एक चम्मच पिसी मिश्री मिला ले। इस मिश्रण को सुबह खाली पेट फांक कर ऊपर से एक गिलास गुनगुना मीठा दूध पी लें। इसी प्रकार रात को सोते समय भी लें दो महीने लगातार इस नुस्खे का सेवन करने से शुक्र धातु पुष्ट होती है। वीर्य गाढ़ा होता है। शीघ्रपतन ठीक होता है। स्तंभन शक्ति और यौन शक्ति बढ़ती है। पहरेज वाली चीजें का ध्यान रखकर इसका सेवन अवश्य लाभ देता है।
धूम्रपान और शराब छोडें-
   शराब और धूम्रपान नपुंसकता की वजह भी बन सकते हैं, इन्हें छोड़ने में ही भलाई है।
सोंठ- 4 ग्राम सोंठ, 4 ग्राम सेमल का गोंद, 2 ग्राम अकरकरा, 28 ग्राम पिप्पली तथा 30 ग्राम काले तिल को एकसाथ मिलाकर तथा कूटकर बारीक चूर्ण बना लें। रात को सोते समय आधा चम्मच चूर्ण लेकर ऊपर से एक गिलास गर्म दूध पी लें। यह रामबाण औषधि शरीर की कमजोरी को दूर करती है और सेक्स शक्ति को बढ़ाती है।
भरपूर नींद -
    बेहतर सेक्स लाइफ के लिए एक अच्छी नींद बेहद जरूरी मानी जाती है। बेहतर नींद ना सिर्फ शरीर को तरोताजा रखती है बल्कि दिमाग को भी जरूरी निर्णय लेने में सहायता प्रदान करती है।
सेब- 
    एक सेब में जितनी हो सके उतनी लौंग लगा दीजिए। इसी तरह का एक अच्छा सा बड़े आकार का नींबू ले लीजिए। इसमें जितनी ज्यादा से ज्यादा हो सके, लौंग लगाकर दोनों फलों को एक सप्ताह तक किसी बर्तन में ढककर रख दीजिए। एक सप्ताह बाद दोनों फलों में से लौंग निकालकर अलग-अलग बोतल में भरकर रख लें। पहले दिन नींबू वाले दो लौंग को बारीक कूटकर बकरी के दूध के साथ सेवन करें। इस तरह से बदल-बदलकर 40दिनों तक 2-2 लौंग खाएं। यह एक तरह से सेक्स क्षमता को बढ़ाने वाला एक बहुत ही सरल उपाय है।


. अश्वगंधा-
   अश्वगंधा का चूर्ण, असगंध तथा बिदारीकंद को 100-100 ग्राम की मात्रा में लेकर बारीक चूर्ण बना लें। चूर्ण को आधा चम्मच मात्रा में दूध के साथ सुबह और शाम लेना चाहिए। यह मिश्रण वीर्य को ताकतवर बनाकर शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा दिलाता है।
कोंच के बीज ( छिलके निकले हुए – शुद्ध ) का चूर्ण -
एक चम्मच एक गिलास दूध में मिलाकर अच्छे से उबालें। ठंडा होने पर मिश्री मिलाकर घूंट घूंट करके धीरे धीरे पियें। नियमित रात को सोते समय दो महीने तक यह दूध पीने से यौन शक्ति और कामोत्तेजना में जोरदार बढ़ोतरी होती है। पाचन तंत्र ठीक हो और परहेज करके इस नुस्खे का सेवन करें तो इसका असर आपका पार्टनर ही बता देगा।
गाजर- 
1 किलो गाजर, चीनी 400 ग्राम, खोआ 250 ग्राम, दूध 500 ग्राम, कद्यूकस किया हुआ नारियल 10 ग्राम, किशमिश 10 ग्राम, काजू बारीक कटे हुए 10-15 पीस, एक चांदी का वर्क और 4चम्मच देशी घी ले लें। गाजर को कद्दूकस करके कडा़ही में डालकर पकाएं। पानी के सूख जाने पर इसमें दूध, खोआ और चीनी डाल दें तथा इसे चम्मच से चलाते रहें। जब यह सारा मिश्रण गाढ़ा होने को हो तो इसमें नारियल, किशमिश, बादाम और काजू डाल दें। जब यह गाढ़ा हो जाए तो थाली में देशी घी लगाकर हलवे को थाली पर निकालें और ऊपर से चांदी का वर्क लगा दें। इस हलवे को चार-चार चम्मच सुबह और शाम खाकर ऊपर से दूध पीना चाहिए। यह वीर्यशक्ति बढ़ाकर शरीर को मजबूत रखता है। इससे सेक्स शक्ति भी बढ़ती है।
*आधा किलो इमली के बीज लेकर उसके दो हिस्से कर दें। इन बीजों को तीन दिनों तक पानी में भिगोकर रख लें। इसके बाद छिलकों को उतारकर बाहर फेंक दें और सफेद बीजों को खरल में डालकर पीसें। फिर इसमें आधा किलो पिसी मिश्री मिलाकर कांच के खुले मुंह वाली एक चौड़ी बोतल में रख लें। आधा चम्मच सुबह और शाम के समय में दूध के साथ लें। इस तरह से यह उपाय वीर्य के जल्दी गिरने के रोग तथा संभोग करने की ताकत में बढ़ोतरी करता है|



*धूप या विटामिन डी (Vitamin D): महिलाओं में सेक्स हार्मोन की वृद्धि और पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में धूप बेहद कारगर होती है।

चोबचीनी-
100 ग्राम तालमखाने के बीज, 100 ग्राम चोबचीनी, 100 ग्राम ढाक का गोंद, 100 ग्राम मोचरस तथा 250 ग्राम मिश्री को कूट-पीसकर चूर्ण बना लें। रोजाना सुबह के समय एक चम्मच चूर्ण में 4 चम्मच मलाई मिलाकर खाएं। यह मिश्रण यौन रुपी कमजोरी, नामर्दी तथा वीर्य का जल्दी गिरना जैसे रोग को खत्म कर देता है।
. छुहारे- 
चार-पांच छुहारे, दो-तीन काजू और दो बादाम को 300 ग्राम दूध में खूब अच्छी तरह से उबालकर तथा पकाकर दो चम्मच मिश्री मिलाकर रोजाना रात को सोते समय लेना चाहिए। इससे यौन इच्छा और काम करने की शक्ति बढ़ती है।
अजवायन-
 100 ग्राम अजवायन को सफेद प्याज के रस में भिगोकर सुखा लें। सूखने के बाद उसे फिर से प्याज के रस में गीला करके सुखा लें। इस तरह से तीन बार करें। उसके बाद इसे कूटकर किसी बोतल में भरकर रख लें। आधा चम्मच इस चूर्ण को एक चम्मच पिसी हुई मिश्री के साथ मिलाकर खा जाएं। फिर ऊपर से हल्का गर्म दूध पी लें। करीब-करीब एक महीने तक इस मिश्रण का उपयोग करें। इस दौरान संभोग बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। यह सेक्स क्षमता को बढ़ाने वाला सबसे अच्छा उपाय है
लहसुन- 
200 ग्राम लहसुन पीसकर उसमें 60 मिली शहद मिलाकर एक साफ-सुथरी शीशी में भरकर ढक्कन लगाएं और किसी भी अनाज में 31 दिन के लिए रख दें। 31 दिनों के बाद 10 ग्राम की मात्रा में 40 दिनों तक इसको लें। इससे यौन शक्ति बढ़ती है।
इलायची –
 इलायची के दानों का चूर्ण 2 ग्राम, जावित्री का चूर्ण 1 ग्राम, बादाम के 5 पीस और मिश्री 10 ग्राम ले लें। बादाम को रात के समय पानी में भिगोकर रख दें। सुबह के वक्त उसे पीसकर पेस्ट की तरह बना लें। फिर उसमें अन्य पदार्थ मिलाकर तथा दो चम्मच मक्खन मिलाकर विस्तार रुप से रोजाना सुबह के वक्त इसको सेवन करें। यह वीर्य को बढ़ाता है तथा शरीर में ताकत लाकर सेक्स शक्ति को बढ़ाता है।
हल्दी – 
वीर्य अधिक पतला होने पर 1 चम्मच शहद में एक चम्मच हल्दी पाउडर मिलाकर रोजाना सुबह के समय खाली पेट सेवन करना चाहिए। इसका विस्तृत रुप से इस्तेमाल करने से संभोग करने की शक्ति बढ़ जाती है|



प्याज-
 आधा चम्मच सफेद प्याज का रस, आधा चम्मच शहद और आधा चम्मच मिश्री के चूर्ण को मिलाकर सुबह और शाम सेवन करें। यह मिश्रण वीर्यपतन को दूर करने के लिए काफी उपयोगी रहता है।सफेद प्याज के रस को अदरक के रस के साथ मिलाकर शुद्ध शहद तथा देशी घी पांच-पांच ग्राम की मात्रा में लेकर एक साथ मिलाकर सुबह नियम से एक माह तक सेवन करें और लाभ देखें इससे यौन क्षमता में अभूतपूर्व वृद्धि देखी जाती है।
सफेद मूसली – 
सालम मिश्री, तालमखाना, सफेद मूसली, कौंच के बीज, गोखरू तथा ईसबगोल- इन सबको समान मात्रा में मिलाकर बारीक चूर्ण बना लें। इस एक चम्मच चूर्ण में मिश्री मिलाकर सुबह-शाम दूध के साथ पीना चाहिए। यह वीर्य को ताकतवर बनाता है तथा सेक्स शक्ति में अधिकता लाता है।
गोखरू –
 सूखा आंवला, गोखरू, कौंच के बीज, सफेद मूसली और गुडुची सत्व- इन पांचो पदार्थों को समान मात्रा में लेकर चूर्ण बना लें। एक चम्मच देशी घी और एक चम्मच मिश्री में एक चम्मच चूर्ण मिलाकर रात को सोते समय इस मिश्रण को लें। इसके बाद एक गिलास गर्म दूध पी लें। इस चूर्ण से सेक्स कार्य में अत्यंत शक्ति आती है।
शंखपुष्पी – 
शंखपुष्पी 100 ग्राम, ब्राह्नी 100 ग्राम, असंगध 50 ग्राम, तज 50 ग्राम, मुलहठी 50 ग्राम, शतावर 50 ग्राम, विधारा 50 ग्राम तथा शक्कर 450 ग्राम को बारीक कूट-पीसकर चूर्ण बनाकर एक-एक चम्मच की मात्रा में सुबह और शाम को लेना चाहिए। इस चूर्ण को तीन महीनों तक रोजाना सेवन करने से नाईट-फाल (स्वप्न दोष), वीर्य की कमजोरी तथा नामर्दी आदि रोग समाप्त होकर सेक्स शक्ति में ताकत आती है।
त्रिफला –
 एक चम्मच त्रिफला के चूर्ण को रात को सोते समय 5 मुनक्कों के साथ लेना चाहिए तथा ऊपर से ठंडा पानी पिएं। यह चूर्ण पेट के सभी प्रकार के रोग, स्वप्नदोष तथा वीर्य का शीघ्र गिरना आदि रोगों को दूर करके शरीर को मजबूती प्रदान करता है।
तुलसी- 
15 ग्राम तुलसी के बीज और 30 ग्राम सफेद मुसली लेकर चूर्ण बनाएं, फिर उसमें 60 ग्राम मिश्री पीसकर मिला दें और शीशी में भरकर रख दें। 5 ग्राम की मात्रा में यह चूर्ण सुबह-शाम गाय के दूध के साथ सेवन करें इससे यौन दुर्बलता दूर होती है।
जायफल –
 15 ग्राम जायफल, 20 ग्राम हिंगुल भस्म, 5 ग्राम अकरकरा और 10 ग्राम केसर को मिलाकर बारीक पीस लें। इसके बाद इसमें शहद मिलाकर इमामदस्ते में घोटें। उसके बाद चने के बराबर छोटी-छोटी गोलियां बना लें। रोजाना रात को सोने से 2 पहले 2 गोलियां गाढ़े दूध के साथ सेवन करें। इससे शिश्न (लिंग) का ढ़ीलापन दूर होता है तथा नामर्दी दूर हो जाती है।
बरगद –
 सूर्यास्त से पहले बरगद के पेड़ से उसके पत्ते तोड़कर उसमें से निकलने वाले दूध की 10-15 बूंदें बताशे पर रखकर खाएं। इसके प्रयोग से आपका वीर्य भी बनेगा और सेक्स शक्ति भी अधिक हो जाएगी।
       इस पोस्ट में दी गयी जानकारी आपको अच्छी और लाभकारी लगी हो तो कृपया लाईक,कमेन्ट, शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँच सकती है साथ ही हमको भी आपके लिये और अच्छे लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है|




Post a Comment

Featured Post

किडनी फेल,गुर्दे खराब रोग की जानकारी और उपचार :: Kidney failure, information and treatment

किडनी कैसे काम करती है? किडनी एक बेहद स्पेशियलाइज्ड अंग है. इसकी रचना में लगभग तीस तरह की विभिन्न कोशिकाएं लगती हैं. यह बेहद ही पतली...