Saturday, December 3, 2016

छिपकली भगाने के टिप्स// Lizard Removal Tips

   

 घर की किसी भी दीवार पर छिपकली घूमती है तो हमें दिक्‍कत होती है कि कहीं नीचे न गिर जाएं, खाने में न गिर जाएं आदि। हालांकि, घर में छिपकली के होने से कीड़े-मकोड़े, पंतगी, झिंगुर आदि नहीं रहते है लेकिन छिपकली के शरीर पर गिरने का भय ज्‍यादा बड़ा होता है।
मार्केट में छिपकली को भगाने वाले कई विषैले लिक्विड आते है, लेकिन ये लिक्विड आपके बच्‍चों या पालतू जानवरों को भी नुकसान पंहुचा सकते है। ऐसे में बेहतर होगा कि छिपकलियों को भगाने के लिए कोई घरेलू उपाय किया जाये। इस आर्टिकल में छिपकलियों को भगाने के कुछ ईको-फ्रैंडली घरेलू उपाय बताएं जा रहे है जो निम्‍म प्रकार है |
मोरपंख
छिपकलियों को मोर का पंख देखकर भ्रम हो जाता है कि यहां कहीं सांप है जो उन्‍हे खा जाएगा, इसलिए उसे देखकर वह भाग जाती है। मोरपंख को घर में किसी गुलदस्‍ते आदि में लगाकर रख दें, इससे छिपकलियां भाग जाएगी।
कॉफी पाउडर
कॉफी पाउडर को तम्‍बाकू पाउडर के साथ मिला लें और इसकी छोटी-छोटी गोलियां बनाकर वहां-वहां रख दें जहां छिपकलियां आती है। अगर छिपकलियां इस मिश्रण को खा लेगी तो वह मर जाएगी, वरना वह भाग अवश्‍य जाएगी।
नेफ्थलीन गोलियां-
नेफ्थलीन की गोलियां, एक अच्‍छी कीटनाशक होती है, इसे वार्डरोब, वॉशवेसिन आदि में डाला जाता है। इसे जहां भी रख देगें, वहां छिपकली नहीं आएगी।
लहसून-
एक स्‍प्रे बॉटल लें। इसमें प्‍याज का रस और पानी भर लें। इसमें कुछ बूंद लहसून के रस की मिला लें और अच्‍छे से मिला लें। अब इसे घर के हर कोने में छिड़क दें, जहां-जहां छिपकली सबसे ज्‍यादा आती है वहां भी छिड़क दें। आप चाहें तो लहसून की कली भी रख सकते है, इससे भी छिपकलियां दूर भाग जाती है
अंडे के छिलके-
अंडे के छिलके में कोई भी महक नहीं होती है जो छिपकली वो जगह छोड़ दें, लेकिन छिपकली मानसिक रूप से सोचती है कि इस क्षेत्र में कोई और बड़ा जीव आकर रहने लगा है, इसलिए वह उस स्‍थान को छोड़ देती है। अंडे के छिलके को तीन-चार सप्‍ताह में बदलते रहें।
फेनाइल की गोली
अक्सर हम कपड़ों को कीड़ों से बचाने के लिए फेनाइल की गोलियों को कपड़ों के बीच में रखते हैं। ठीक इसी तरह से ये फेनाइल की गोलियां छिपकलियों को दूर भगाती हैं। जहां पर आपको छिपकली दिखती हो वहां पर दो गोलियां फेनाइल की रख दें। इसकी गंध छिपकलियों को आपके घर से दूर कर देगी।
प्‍याज-
प्‍याज को स्‍लाइस में काटकर उसे धागे में बांधकर लाइट्स आदि के पास लटका दें, इससे वहां आने वाली छिपकली भाग जाएगी। प्‍याज में सल्‍फर ज्‍यादा मात्रा में होता है जिससे बुरी दुर्गंध निकलती है और छिपकली भाग जाती है।




लाल मिर्च पाउडर
बेहद तीखी होने की वजह से छिपकलियों को लाल मिर्च का सहना मुश्किल हो जाता है। यदि आप घर के या दरवाजों के कोनों में लाल मिर्च की स्प्रे करते हैं तो इससे जल्द ही छिपकलियां घर से दूर चली जाएंगी।
आइये जानते हैं कैसे बनाएं लाल मिर्च का स्प्रे :
आधे गिलास पानी में लाल मिर्च पाउडर एक से दो चम्मच मिलाकर घोल बना लें। और अब आप इसका छिड़काव कर सकते हैं
बर्फ वाला ठंडा पानी-
बर्फीले पानी को छिपकली पर स्‍प्रे कर दं, इससे उसको ठंडा लगेगा और वह भाग जाएगी। ऐसा कई दिन तक लगातार करें, ताकि वह घर ही छोड़ दें। पानी डालने के बाद छिपकली गिर जाएं तो उसे डस्‍टबीन में भरकर बाहर फेंक दें।
पिपर पेस्टीसाइड स्‍प्रे-
पानी और काली मिर्च के पाउडर को मिला लें और एक पेस्‍टीसाइड तैयार कर लें। इसे अपनी किचेन, कमरों और बाथरूम अदि जगहों पर छिड़क दें। इससे छिपकलियां भाग जाती है क्‍योंकि काली मिर्च की तीखी गंध उन्‍हे अच्‍छी नहीं लगती है।





Post a Comment

Featured Post

किडनी फेल,गुर्दे खराब रोग की जानकारी और उपचार :: Kidney failure, information and treatment

किडनी कैसे काम करती है? किडनी एक बेहद स्पेशियलाइज्ड अंग है. इसकी रचना में लगभग तीस तरह की विभिन्न कोशिकाएं लगती हैं. यह बेहद ही पतली...