4.10.16

बच्चों के लिए घरेलू उपचार दस्त, उल्टी, खांसी-सर्दी के लिए Home remedies for children diarrhea, vomiting, cough-cold



बच्चों के लिए
 घरेलू उपचार
 दस्त, उल्टी, खांसी-सर्दी के लिए  




छोटे बच्चों अगर दस्त ,उल्टी,सर्दी खांसी की समस्या हो तो निम्न आयुर्वेदिक नुस्खा उपयोग करने से बहुत अच्छे परिणाम प्राप्त होते हैं-
इसे बाल चतुरभद्र कूर्ण के नाम से जाना जाता है| बाजार मे आयुर्वेदिक औषधि विक्रेताओं से ले सकते हैं और यदि घर पर ही इस औषधि का निर्माण करना चाहें तो पूरा नुस्खा नीचे लिख देता हूँ -
इसके लिए चार जड़ी बूटियों की जरूरत होती है-
1 मोथा
2॰ ककड़ासिंघी
३ .अतीस
४. छोटी पीपल
सभी को कूट पीसकर कपड़छन कर चूर्ण बनाकर डिब्बे मे भरकर रखें|
यह औषधि बच्चोइन के निम्न रोगों मे सफलता से व्यवहार की जा सकती है
*बच्चों के दस्त मे
*उल्टी होने पर
*खांसी सर्दी होने पर
* बुखार होने पर
*पेट दर्द और पेट फूलने पर
मात्रा और सेवन विधि :
छ; मास से कम आयु के बछों को १२५ मिलीग्राम याने एक मसूर के दाने के बराबर शहद मे मिलाकर चटाना चाहिए |
छ; महीने से एक साल तक के बच्चों को २५० मिलीग्राम खुराक होगी | बच्चों के वजन के अनुसार यह मात्रा कुछ कम - ज्यादा हो सकती है|
ऐसे भी अगर बच्चों को इसकी एक खुराक रोजाना दी जावे तो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है |
इस चूर्ण को आपा चाहें तो निम्न विधि से सिरप भी बना सकते हैं
१० ग्राम चूर्ण को १००मिली पानी मे इतना उबालें की एक चौथाई भाग शेष रह जाये| आंच से उतारलें| ठंडा होने पर इसमे २५ ग्राम शहद मिश्रित करें| औषधि तैयार है| इसे आप बालकों को ड्रापर से १०-१५ बूंद की खुराक दे सकते हैं| बेहद उपयोगी औषधि है|
इस पोस्ट में दी गयी जानकारी आपको अच्छी और लाभकारी लगी हो तो कृपया लाईक,कमेन्ट, शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँच सकती है साथ ही हमको भी आपके लिये और अच्छे लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है
|











Post a Comment