Tuesday, October 4, 2016

बच्चों के लिए घरेलू उपचार दस्त, उल्टी, खांसी-सर्दी के लिए Home remedies for children diarrhea, vomiting, cough-cold



बच्चों के लिए
 घरेलू उपचार
 दस्त, उल्टी, खांसी-सर्दी के लिए  




छोटे बच्चों अगर दस्त ,उल्टी,सर्दी खांसी की समस्या हो तो निम्न आयुर्वेदिक नुस्खा उपयोग करने से बहुत अच्छे परिणाम प्राप्त होते हैं-
इसे बाल चतुरभद्र कूर्ण के नाम से जाना जाता है| बाजार मे आयुर्वेदिक औषधि विक्रेताओं से ले सकते हैं और यदि घर पर ही इस औषधि का निर्माण करना चाहें तो पूरा नुस्खा नीचे लिख देता हूँ -
इसके लिए चार जड़ी बूटियों की जरूरत होती है-
1 मोथा
2॰ ककड़ासिंघी
३ .अतीस
४. छोटी पीपल
सभी को कूट पीसकर कपड़छन कर चूर्ण बनाकर डिब्बे मे भरकर रखें|
यह औषधि बच्चोइन के निम्न रोगों मे सफलता से व्यवहार की जा सकती है
*बच्चों के दस्त मे
*उल्टी होने पर
*खांसी सर्दी होने पर
* बुखार होने पर
*पेट दर्द और पेट फूलने पर
मात्रा और सेवन विधि :
छ; मास से कम आयु के बछों को १२५ मिलीग्राम याने एक मसूर के दाने के बराबर शहद मे मिलाकर चटाना चाहिए |
छ; महीने से एक साल तक के बच्चों को २५० मिलीग्राम खुराक होगी | बच्चों के वजन के अनुसार यह मात्रा कुछ कम - ज्यादा हो सकती है|
ऐसे भी अगर बच्चों को इसकी एक खुराक रोजाना दी जावे तो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है |
इस चूर्ण को आपा चाहें तो निम्न विधि से सिरप भी बना सकते हैं
१० ग्राम चूर्ण को १००मिली पानी मे इतना उबालें की एक चौथाई भाग शेष रह जाये| आंच से उतारलें| ठंडा होने पर इसमे २५ ग्राम शहद मिश्रित करें| औषधि तैयार है| इसे आप बालकों को ड्रापर से १०-१५ बूंद की खुराक दे सकते हैं| बेहद उपयोगी औषधि है|
इस पोस्ट में दी गयी जानकारी आपको अच्छी और लाभकारी लगी हो तो कृपया लाईक,कमेन्ट, शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँच सकती है साथ ही हमको भी आपके लिये और अच्छे लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है
|











Post a Comment

Featured Post

किडनी फेल,गुर्दे खराब रोग की जानकारी और उपचार :: Kidney failure, information and treatment

किडनी कैसे काम करती है? किडनी एक बेहद स्पेशियलाइज्ड अंग है. इसकी रचना में लगभग तीस तरह की विभिन्न कोशिकाएं लगती हैं. यह बेहद ही पतली...